प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना – सरकार द्वारा योजना का विस्तार

Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana – माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता वाली आर्थिक मामलों की कैबिनेट कमेटी ने प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना (PMRPY) के विस्तार को मंजूरी दे दी है। अब,भारत सरकार केंद्र सरकार के नए कर्मचारी के पंजीकरण की तारीख से पहले तीन वर्षों के लिए नियोक्ता के पूर्ण स्वीकार्य अंशदान में योगदान देगी। यह तीन वर्षों की शेष अवधि के लिए मौजूदा लाभार्थियों सहित सभी क्षेत्रों के लिए किया जाएगा।

Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana

लाभ

इस फैसले के माध्यम से, अनौपचारिक क्षेत्र के कर्मचारियों को सामाजिक सुरक्षा कवच मिलेगा और वहां अधिक रोजगार के अवसर होंगे।

अब तक, इस योजना के काफी उत्साहवर्धक परिणाम आए हैं और 31 लाख से अधिक लाभार्थियों को औपचारिक रोजगार में लाभ हुआ है,जिसमें कि 500 करोड़ रुपये से अधिक का खर्च शामिल है।

Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना का विवरण

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना को अगस्त 2016 में शुरू किया गया था। इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य नियोक्ताओं को प्रोत्साहित करना और नए रोजगार के अवसर प्रदान करना है, जिसमें की केंद्र सरकार कर्मचारी पेंशन योजना (EPS) के लिए नियोक्ता के 8.33% योगदान का भुगतान कर रही है। नए कर्मचारियों (जो 1 अप्रैल 2016 को या बाद में शामिल हो गए हैं) के संबंध में एक नया यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) दिया जा रहा है, जिसमें मासिक वेतन 5000 रुपए से 15,000 / – रूपये तक है।

Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना का दूसरा नाम ‘दोहरी लाभ योजना’ है इस योजना के तहत, नियोक्ता को स्थापना में श्रमिकों के रोजगार के आधार में वृद्धि करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana

Pradhan Mantri Rozgar Yojana Loan Yojana – Apply

प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना की विशेषताएं

  • इस योजना के तहत नियोक्ता और बेरोजगार दोनों को इस योजना के तहत लाभ प्राप्त होगा।
  • इस योजना के तहत पंजीकरण करने वाले नियोक्ता के 8.33% EPS योगदान का भुगतान भारत सरकार द्वारा किया जाएगा,जो की कर्मचारी को प्राप्त होगा और लाभ कर्मचारी को सीधे दिया जाएगा।
  • नियोक्ता और कर्मचारी का इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन पंजीकरण होगा और वे अपना पंजीकरण खुद कर सकते हैं।
  • नियोक्ता पंजीकरण के लिए,एक नियोक्ता को EPFO के तहत पंजीकरण करना चाहिए और नियोक्ता के पास श्रम पहचान संख्या होनी चाहिए जो कि उसे पंजीकरण करते समय श्रम पोर्टल द्वारा मिलता है।

The post प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना – सरकार द्वारा योजना का विस्तार appeared first on KhojGuru.